एक मनोरंजक और लाभप्रद प्राणायाम: भस्त्रिका(How to do Bhrastika Pranayam in Hindi)

आओ जाने भस्त्रिका प्राणायाम क्या हैं ? Bhrastika भस्त्रिका एक संस्कृत भाषा का शब्द है, जिसका मतलब हिंदी में  फुंकनी  हैं। जिस तरह चूल्हे के सामने  फुंकनी की मदद  से फूंक लगाने से आग को बढाया जाता हैं और यह तेज आग भोजन को शीघ्र पकाने में मदद करती हैं  उसी तरह भस्त्रिका प्राणायाम में शरीर

एक अनूठा प्राणायाम: कपालभाती (How to do Kapalbhati Pranayam in Hindi)

कपालभाती प्राणायाम : विधि और लाभ Kapalbhati ‘कपालभाती‘  संस्कृत भाषा के दो शब्दों ‘कपाल’ और ‘भाती’ से मिलकर बना है। ‘कपाल‘ से तात्पर्य   मस्तक  और ‘भाती‘ से तात्पर्य प्रकाश से हैं। रोजाना कपालभाती प्राणायाम करने से व्यक्ति के चेहरे पर नयी चमक आती है। कपालभाती प्राणायाम करने के कई सारे फायदे है। मोटापा आज की

योगा: अनुलोम विलोम प्राणायाम(How to do Anulom-Vilom Pranayam in Hindi)

फायदेमंद हैं अनुलोम विलोम प्राणायाम करना Anulom-Vilom अनुलोम–विलोम प्राणायाम में श्वांस को आहिस्ता-आहिस्ता शरीर के अन्दर लेने व छोड़ने की विधि को दोहराया जाता है। इस प्राणायाम का दूसरा नाम  ‘नाड़ी शोधक प्राणायाम‘ भी है। अनुलोम-विलोम प्राणायाम प्रतिदिन सुबह जल्दी उठकर ब्रहम मुहूर्त में किया जाये तो यह शरीर की सभी शिराओ को  स्वस्थ व

योगा: सूर्यानमस्कार क्या है ?(How to do Suryanamaskar in Hindi)

आइये जानते है योगा:सूर्यानमस्कार क्या है ? Suryanamaskar हमारे देश (भारत) में सूर्या को ज्ञान और ऊर्जा का चिन्ह माना जाता हैं। सूर्या को लम्बे समय से ही भगवन की तरह पूजा जा रहा हैं। सूर्या भगवान से ज्ञान और ऊर्जा प्राप्ति के लिए योग में ‘ सूर्यानमस्कार ‘ किया जाता हैं। सूर्यानमस्कार अपने आप
error: Content is protected !!