Benefits of Drinking Water in Hindi

एक स्वास्थ्यवर्धक तरल: पानी(Water) Drinking Water पानी के महत्व को हम सभी जानते हैं| हम कुछ दिन बिना खाना खाए तो जीवित रह सकते हैं परन्तु अगर हमें पानी न मिले तो हमारा जीवन ही समाप्त हो जायेगा| इसीलिए यह कहावत हैं कि “जल ही जीवन हैं”| जल के महत्व को जानते हुए हम दिन

क्या है होम्योपैथी( What is Homeopathy)

क्या है होम्योपैथी(Homeopathy)– Homeopathy होम्योपैथी(Homeopathy) चिकित्सा समरूपता के सिद्धांत पर आधारित हैं| मान लीजिये अगर कोई स्वस्थ व्यक्ति किसी दवाई का सेवन कर ले| उस दवाई के सेवन के बाद उसकी तबियत ख़राब हो जाए तो फिर उस दवाई की कम मात्रा में सेवन करने से उसकी तबियत ठीक हो जाए तो इस पद्धति को

हास्य योग (Laughter Yoga in Hindi)

हास्य योग(Laughter Yoga) हास्य योग(Laughter Yoga) के क्रिया एक बहुत ही सरल क्रिया हैं परन्तु इसको करने से आपको बहुत अधिक लाभ मिलते हैं| आपने भी अपने आस-पास कुछ लोग ऐसे देखे होंगे जो हमेशा हसते और मुस्कुराते रहते हैं| चाहे वे लोग जीवन के किसी भी पड़ाव में हो लेकिन अपनी हसने की आदत

कैसे करें नौकासन(How to do Naukasana in HIndi)

नौकासन(Naukasana) हर एक व्यक्ति अपनी शारीरिक लम्बाई को बढाने की इच्छा रखता हैं| लम्बाई व्यक्ति के व्यक्तित्व में चार चाँद लगा देती हैं| जिन व्यक्तियों की लम्बाई कम हैं वे अपनी लम्बाई को बढाने के लिए बाज़ार में मिलने वाली आयुर्वेदिक और अंग्रेजी दवाओ का सेवन करते है लेकिन उन दवाओ से कोई भी फायदानहीं

पैदल चलना(Walking in Hindi)

पैदल चलना(Walking) आज हर व्यक्ति अपने काम-काज में इस तरह व्यस्त हो चुका हैं कि वह अपने स्वास्थ्य की तरफ ध्यान ही नहीं दे पा रहा हैं| भाग-दौड़ भरी जीवनशैली और अनियमित खान-पान से हमारे शरीर में अनेको छोटी-छोटी बिमारियों ने घर कर लिया हैं| उपाय हम सब जानते हैं कि उचित खान-पान और नियमित

पवनमुक्त आसन( How to do Pawanmuktasana in Hindi)

   पवनमुक्त आसन(Pawanmuktasana) पवनमुक्त आसन(Pawanmuktasana) से तात्पर्य है एक ऐसा आसन जो पवन या हवा से शरीर को मुक्त करा दे। आज के समय में अनुचित खानपान और भाग-दौड़ भरी जीवन शैली की वजह से वायु का बनना एक आम समस्या हैं| पेट में अतिरिक्त वायु बनने से आपको कई गंभीर बीमारिया जकड़ सकती हैं

बिक्रम योगा(Bikram Yoga in Hindi)

बिक्रम योगा(Bikram Yoga) योग करना हमारे भारत देश की आधारशिला हैं| यह एक प्राचीन पद्धति हैं जो प्राचीन समय से शरीर को स्वस्थ रखने और विभिन्न प्रकार की जटिल बीमारियों से निजात पाने के लिए प्रयोग में लायी जाती है| हमारे योग गुरुओ ने शरीर के सभी अंगो को स्वस्थ और शक्तिशाली बनाने के लिए

फेस योगा (Face Yoga in HIndi)

फेस योग(Face Yoga) बढती आयु का असर सबसे पहले आपके चेहरे पर नजर आता है। लेकिन अगर अधिक आयु नहीं हुई है फिर भी शहरी प्रदूषण की वजह से आपका चेहरा बेजान सा हो गया है तो आप फेस योग करके अपने चेहरे में नयी जान डाल सकते हैं| इसके लिए निम्नलिखित फेस योग (Face

कैसे करें मार्जरी आसन(How to do Marjariasana in HIndi)

मार्जरी आसन(Cat Pose) आधुनिक युग में हमारा जीवन बहुत व्यस्त हो गया हैं| हमारे शरीर पर भी इसका बहुत अधिक असर पड़ता है| अत्यधिक भाग-दौड़ की वजह से हमारे शरीर के किसी न किसी हिस्से में आये-दिन दर्द होता रहता हैं कभी हमारे सिर में दर्द, कभी हमारे हाथ और पैर में दर्द कभी कमर

कैसे करें गरुड़ासन( How to do Garudasan in HIndi)

गरुड़ासन(Garudasan) गरुड़ को अंग्रेजी भाषा में ईगल(Eagle) कहते हैं। इस आसन को करते समय आपके शरीर की मुद्रा गरुड़ पक्षी के समान हो जाती है| इसी कारणवश इस आसन को गरुड़ासन(Garudasan) कहा जाता हैं।   गरुड़ासन(Garudasan) को करने का नियम:   सबसे पहले आप सीधे खड़े हो जाएं। फिर अपने बाएं पैर को ऊपर की
error: Content is protected !!